• Mon. Sep 26th, 2022

    LIVE VIDEO: पहले लाठी डंडों से पीटा… फिर पिकअप के पीछे बांधकर घसीटा, MP में आदिवासी युवक को दबंगों ने दी तालिबानी सजा

    Aug 28, 2021

    मध्य प्रदेश के नीमच से हैवानियत भरी वारदात सामने आई है. यहां मामूली विवाद के बाद कुछ लोगों ने एक आदिवासी युवक की पहले बुरी तरह पिटाई की, उसके बाद उसे गाड़ी से बांधकर घसीटा गया. घायल हुए युवक की मौत इलाज के दौरान हो गई.

    एएनआई ने इस बारे में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के हवाले से अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा ‘मध्य प्रदेश: नीमच में 1 व्यक्ति की चोरी के शक में पीटकर हत्या की गई. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया, “मृतक को वाहन के पीछे बांधकर घसीटा गया था. 8 आरोपियों की पहचान की गई. 4 को राउंडअप किया गया. मुख्य आरोपी को गिरफ़्तार किया गया. बाकियों को भी ज़ल्द गिरफ़्तार करेंगे.’

    कमलनाथ ने उठाए सवाल

    इस वारदात का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. इस मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी शिवराज सरकार को घेरते हुए पूछा है कि आखिर मध्य प्रदेश में क्या हो रहा है. उन्होंने इस घटना का वीडियो भी साझा किया है.

    आदिवासी युवक की पहचान कन्हैया लाल भील

    स्थानीय मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, मारे गए आदिवासी युवक का नाम कन्हैया लाल भील है. वह अपने साथी के साथ ग्राम कलां से गुजर रहा था. तभी उसकी बाइक की टक्कर गुर्जर समाज के व्यक्ति से हो गई. तब गुर्जर समाज के लोगों ने आदिवासी युवक की पिटाई लाठी-डंडों से की. इसके बाद इनलोगों ने क्रूरता की हदें पार करते हुए आदिवासी युवक को पिकअप वाहन से बांधकर उसे काफी दूरी तक घसीटा. इस वारदात को अंजाम देते हुए उन्होंने खुद इसकी वीडियो भी बनाई.

    26 अगस्त की घटना

    बताया जा रहा है कि वारदात 26 अगस्त की है. पुलिस ने इस मामले में 8 लोगों को नामजद किया है. चित्रमल गुर्जर और महेंद्र गुर्जर नाम के दो आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं. जो युवक घटना के वक्त पिक चला रहा था, उसे भी हिरासत में लिया जा चुका है. पुलिस का दावा है कि जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

    अपराधियों ने खुद दी सूचना पुलिस को

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अपराधियों ने खुद ही पुलिस को इसकी सूचना दी. उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्होंने एक चोर को पकड़ा है, जो घायल है. मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को नीमच अस्पताल पहुंचाया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. इसके बाद वायरल वीडियो के जरिए यह सचाई सामने आई कि हाथ पैर बांधकर आदिवासी युवक को सड़क पर घसीटा गया था.