• Mon. Sep 26th, 2022

    Chhapra News: धमाके के बाद छपरा में गिरी बिल्डिंग, महिला समेत 4 की मौत, कई के दबे होने की आशंका

    Jul 24, 2022

    सारण: बिहार के छपरा में विस्फोट (Explosion while making bomb in Chapra) हुआ है. एक पटाखा फैक्ट्री में बम बनाते के दौरान धमाका हुआ है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस धमाके में महिला समेत 4 की मौत हो गई. वहीं, 4 लोगों के दबने की आशंका है. घटना जिले के खैरा इलाके के खुदाईबाग की है. धमाका इतना तेज था कि पूरा इलाका दहल गया. पूरा घर ध्वस्त हो गया और घर की छतें और दीवार कई मीटर दूर उछलकर मलबे में तब्दील हो गई. घर के अंदर मौजूद एक शख्स के शरीर का हिस्सा लगभग 50 मीटर दूर छिटककर गिरा. प्रशासन की टीम मौके पर पहुंचकर जांच कर रही है. चर्चा है कि पटाखे से इतना बड़ा धमाका कैसे हो सकता है. बम धमाके में अब मलबे के अंदर से 4 शवों के निकाले जाने की सूचना मिल रही है.

    बताया जाता है कि खैरा थाना अंतर्गत खोदाईबाग के ओलहनपुर गांव में अचानक मस्जिद के पास विस्फोट हुआ. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बम ब्लास्ट से वहां भगदड़ की स्थिति हो गई. स्थानीय लोगों के मुताबिक यहां पर आतिशबाजी बनाई जा रही थी. उसी दौरान विस्फोट हो गया. जिससे वहां भगदड़ मच गई और कई लोग बुरी तरह से घायल हो गए. बम धमाके की सूचना पाकर छपरा पुलिस प्रशासन के वरीय अधिकारी लगभग आधा दर्जन एंबुलेंस और राहत एवं बचाव दल के साथ खोदाईबाग के लिए रवाना हुए. मौके पर पहुंचकर राहत और बचाव का कार्य शुरू किया. गौरतलब है कि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हो पा रही है कि धमाका ‘बम विस्फोट’ से हुआ है या आतिशबाजी बनाने के दौरान विस्फोट हुआ है.

    मलबे में अभी भी बच्चों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है. धमाके में चार लोग जख्मी हुए हैं, जिन्हें सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. स्थानीय लोगों के मुताबिक मुलाजिम मियां और रियाजुद्दीन मियां का घर था. वह पटाखा घर लाकर बेचता था. शादी ब्याह में बम-पटाखा बेचना का काम करता है. विस्फोट के बाद उसका घर ढह गया है. धमाका इतना तेज था कि पक्के मकान की छत उड़ गई. घर में मौजूद लोगों के शरीर के हिस्से कई मीटर दूर तक उड़कर बिखरे हुए थे. इस हादसे के बाद ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठी हो गई है. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है. घटनास्थल पर पुलिस और प्रशासन के आलाधिकारी पहुंच चुके हैं. अभी इस मामले में प्रशासन कुछ भी कहने से बच रहा है.