• Fri. Oct 7th, 2022

    डिप्टी जेलर का कैदी की पत्नी के साथ लंच, वीडियो वायरल होने पर बोले- दवा देने आई थी

    May 14, 2020

    लॉकडाउन में ग्वालियर जेल के डिप्टी जेलर ने सरकारी आदेशों की धज्जियां उड़ाई हैं। कोरोना वायरस की वजह से जेल में किसी भी कैदी से उनके परिजन मुलाकात नहीं कर सकते हैं। ग्वालियर जेल में डिप्टी जेलर ने एक कैदी की मुलाकात उसकी पत्नी से करवाई है। उसके बाद डिप्टी जेलर ने कैदी की पत्नी के साथ अपने चैंबर में बैठकर लंच भी किया। लंच करते हुए डिप्टी जेलर का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

     

    वीडियो सामने आने के बाद जेल महकमे में हड़कंप मच गया है। जानकारी के अनुसार 19 अप्रैल को एक विशेष पास के जरिए ग्वालियर जेल में 2 महिलाओं की एंट्री हुई थी। यह पास जेलर मनोज साहू ने जारी किया था, जबकि कोरोना की वजह से कैदियों से मुलाकात पर पाबंदी थी। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जेल में प्रवेश के दौरान दोनों महिलाओं की स्क्रीनिंग भी नहीं हुई थी। जेल के अंदर महिलाओं की मुलाकात उनके पतियों से करवाई गई।

     

    वीडियो वायरल

    वायरल वीडियो में दिख रही महिला, जेल में बंद कैदी गुरमीत कुकरेजा की पत्नी है। गुरमीत फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी बनकर रेड डालने के मामले में आरोपी है। उसकी पत्नी को डिप्टी जेलर ने वीवीआईपी ट्रीटमेंट जेल के अंदर दिया है। बताया जा रहा है कि वीडियो जेल के ही एक कर्मी ने बनाया है।

     

    जेलर की सफाई

    वहीं, वीडियो सामने आने के बाद जेलर मनोज साहू ने कहा है कि गुरमीत कुकरेजा की पत्नी ही सिर्फ जेल में आई थी। उसने पति को दवा देने के लिए परमिशन ली थी। पति से मुलाकात नहीं करवाई गई है। मुलाकात बंद है, इसलिए उसे ऑफिस में बैठा दिया गया।

     

    डिप्टी जेलर का ट्रांसफर

    विवाद बढ़ने के बाद डिप्टी जेलर प्रभात कुमार का ट्रांसफर कर दिया गया है। प्रभात कुमार को सागर भेज दिया गया है। साथ ही मामले की जांच की जा रही है। डिप्टी जेलर ने इस दौरान कोविड-19 के लिए जारी प्रोटोकॉल का पालन भी नहीं किया है।