• Tue. Nov 29th, 2022

    MP-UP बॉर्डर पर बवाल, बेकाबू हुए प्रवासी, बैरिकेड तोड़ उत्तर प्रदेश की सीमा में घुसे मजदूर

    May 17, 2020

    मध्यप्रदेश की सभी सीमाओं पर प्रवासी मजदूरों का जमावाड़ा है। अपने राज्य पहुंचने के लिए वह लगातार संघर्ष कर रहे हैं। रविवार को रीवा के चाकघाट स्थित एमपी-यूपी बॉर्डर पर प्रवासी मजदूर बेकाबू हो गए। मजदूरों ने बॉर्डर पर जमकर हंगामा किया। साथ ही बैरिकेड तोड़ यूपी में प्रवेश कर गए। पुलिस ने मजदूरों पर हल्का बल भी प्रयोग किया है।

    दरअसल, शनिवार को चाकघाट स्थित एमपी-यूपी बॉर्डर पर हजारों प्रवासी मजदूरों को रोक दिया गया था। उसके बाद एमपी से रीवा एसपी आबिद खान, एडिनशल एसपी गोपाल खांडेल और यूपी के अधिकारी मौके पर जायजा लेने पहुंचे थे। उनके जाने बाद ट्रकों से आएं कई हजार मजदूरों को सीमा पर छोड़ दिया गया।

    वहीं, मौके पर मौजूद हजारों की संख्या में भूखे श्रमिकों ने भोजन, गृहग्राम तक पहुंचाने की समुचित व्यवस्थाएं ना होने पर कई घंटों तक इंतजार के बाद सड़कों पर विरोध-प्रदर्शन करने लगे। मजदूरों को शांत कराने के लिए पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया, जिसमें कई मजदूर जख्मी हुए।

     

    लाचार दिखी पुलिस

    वहीं, मजदूरों के गुस्से के आगे मौके पर मौजूद पुलिसवाले भी लाचार दिखे। मजदूर किसी भी तरह से घर पहुंचना चाह रहे थे। यूपी सीमा पर लगे बैरिकेड्स को तोड़कर मजदूर उत्तर प्रदेश में प्रवेश कर गए। लेकिन पुलिस कुछ नहीं कर पाई। मजदूरों के लिए वहां उपलब्ध करवाई गई बसें भी कम पड़ीं।