• Sat. Sep 24th, 2022

    5 जून को लगने वाला चंद्रग्रहण है बहुत खास, कर सकते हैं ये काम

    Jun 4, 2020

    5 जून यानी शुक्रवार को साल का दूसरा ग्रहण लगने जा रहा है. यह ग्रहण सामान्य रूप से लगने वाले चन्द्रग्रहण से बिल्कुल अलग है. कहा जा रहा है कि इस चंद्रग्रहण को देखा भी जा सकता है और इस दौरान खाया भी जा सकता है.

    दरअसल, 5 जून को जेष्ठ मास की पूर्णिमा तिथि है और इस दिन उपछाया चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है. इस चंद्र ग्रहण को पूरे भारत में देखा जा सकता है. ग्रहण मध्य रात्रि को 11 बजकर 16 मिनट से रात 2 बजकर 34 मिनट तक रहेगा. बताया जा रहा है कि ग्रहण के दौरान चंद्रमा के आकार में कोई परिवर्तन नहीं होगा. इस दौरान चंद्रमा वृश्चिक राशि में होंगे.

    उपछाया चंद्रग्रहण वास्तविक चंद्रग्रहण से अलग होता है

    शुक्रवार को लगने वाला चंद्रग्रहण उपछाया चंद्रग्रहण है. शास्त्रों के अनुसार, यह वास्तविक चंद्रग्रहण से अलग होता है. इस ग्रहण में नियम अलग होते हैं, इस दौरान कोई सूतक नहीं लगता है. अर्थात इस दौरान आप पूजा-पाठ कर सकते हैं. साथ ही इस दौरान सोने-जागने की कोई पाबंदी नहीं होती है.

    जून माह में लगेंगे दो ग्रहण

    दरअसल, जून माह में दो ग्रहण लगने जा रहा है. पहला 5 जून को और दूसरा 21 जून को. 5 जून को चंद्रग्रहण तो 21 जून सूर्य ग्रहण लगेगा. ये दोनों ग्रहण भारत में दिखाई देंगे. इसके अलावे अन्य देशों में भी दिखाई देगा.