• Sun. Dec 4th, 2022

    ‘भारत में कम्यूनिटी ट्रांसमिशन हो रहा, पर पर्याप्त सबूत नहीं’

    Jul 20, 2020

    नई दिल्ली. IMA के बयान के बाद कम्यूनिटी ट्रांसमिशन को लेकर लोगों में चिंता हो गई है। अब AIIMS डायरेक्टर डॉ रणदीप गिलेरिया ने कहा कि भारत को कुछ इलाकों में अब कम्यूनिटी ट्रांसमिशन हो रहा है।

    उन्होंने कहा कि भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण से मृत्यु दर दूसरे देशों से काफी कम है। इटली, स्पेन या फिर अमेरिका की हम बात करें तो हमें अच्छी तरह पता है कि वहां क्या हुआ है।

    कम्यूनिटी ट्रांसमिशन हो रहा, पर पर्याप्त सबूत नहीं

    कम्यूनिटी ट्रांसमिशन के बारे AIIMS डायरेक्टर डॉ रणदीप गिलेरिया ने कहा कि देश भर में यह हो रहा है लेकिन इसके पर्याप्त सबूत नहीं है। उन्होंने कहा कि देश में कई हॉटस्पॉट हैं, शहरों में केस काफी तेजी बढ़ रहे हैं। ऐसे में ये कहा जा सकता है कि ट्रांसमिशन हो रहा है।

    उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल चल रहा है। पहले फेज में का ट्रायल 18 से 55 साल के स्वस्थ लोगों पर होगा, जिन पर ट्रायल होगा। उन्होंने बताया कि पहले चरण में 375 और दूसरे चरण में 750 लोगों के सैंपल का अध्ययन किया जाएगा।

    गौरतलब है कि IMA का कहना है कि देश में कोरोना का कम्यूनिटी ट्रांसमिशन शुरू हो चुका है। इससे साफ है कि आगे हालत और बिगड़ सकते हैं। दरअसल, कम्यूनिटी ट्रांसमिशन में संक्रमित शख्स को ये पता नहीं होता है कि उसे वायरस कहां से मिला। ऐसे वायरस का सोर्स ढूंढना बहुत ही मुश्किल हो जाता है।