• Sun. Oct 2nd, 2022

    कोरोना काल में मालामाल हो रहा रेलवे, हर दिन कमा रहा 22 लाख रुपये

    May 6, 2020

    कोरोना लॉक डाउन के कारण लोगों की कमाई बंद है। जो जहां है वहीं पर अपने-अपने घरों में कैद हैं। ना तो कोई कहीं जा सकता है, ना ही कोई कहीं से आ सकता है। इसके बावजूद लोग रेलवे के IRCTC से टिकट खरीद रहे हैं ताकि लॉक डाउन हटने के बाद यात्रा कर सकें।

     

    दरअसल, लोगों को उम्मीद है कि लॉक डाउन खत्म होने के बाद ट्रेनें चलेंगी लेकिन भारतीय रेलेवे ने ट्रेनों को चलाने को लेकर कोई फैसला नहीं लिया है। इसके बावजूद सुविधा शुल्क के नाम पर यात्रियों से लाखों रुपये कमा रही है।

     

    दरअसल, भारतीय रेलवे का IRCTC टिकट बेच रहा है। ऐसे में लोग एक जगह से दूसरी जगह जाने की उम्मीद में सुविधा शुल्क देकर ऑनलाइन टिकट बुक कर रहे हैं। अगर ट्रेनें नहीं चली तो सुविधा शुल्क के तौर पर दी गई राशि वापस नहीं होगी। ऐसे में रेलवे को इससे लाखों का फायदा होगा। बताया जा रहा है कि सुविधा शुल्क के नाम पर रेलवे हर दिन 20-22 लाख रुपया कमा रहा है।

     

    देना पड़ता है सुविधा शुल्क

    दरअसल, जब भी हम ऑनलाइन टिकट खरीदते हैं तो हमें सुविधा शुल्क के नाम किराया के अलावा भी कुछ राशि देनी पड़ती है, जिसे सुविधा शुल्क कहा जाता है। स्लीपर क्लास का टिकट खरीदने पर 15 रुपये देने पड़ते हैं, वहीं एसी श्रेणी का ऑनलाइन टिकट खरीदने पर 30 रुपये देने पड़ते हैं।