• Wed. Sep 21st, 2022

    कॉन्स्टेबल का आवेदन, ‘हुजूर… भैंस का दूध पिया है, उसका कर्ज अदा करना है, छुट्टी दे दो’

    Jun 26, 2020

    Bhopal: रीवा जिले के एसएएफ 9वीं बटालियन में पदस्थ आरक्षक कुलदीप तोमर का लिखा हुआ एक पत्र इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी तेजी के साथ वायरल हो रहा है, जिसमें आरक्षक ने बीमार भैंस की सेवा करने विभागीय छुट्टी की मांग की है. आरक्षक ने पत्र में यह भी लिखा है कि उन्होंने हमेशा भैंस का दूध पिया है और अब उसका कर्ज अदा करना है.

    दरअसल, रीवा जिले में इन दिनों आरक्षक का लिखा हुआ एक पत्र चर्चा का विषय बना हुआ है, जिसमें आरक्षक ने बीमार भैंस की सेवा के लिए विभाग से छुट्टी की मांग की है. जिसके बाद मामला संज्ञान में आते ही अधिकारियों ने आरक्षक को फटकार भी लगाई और अब आरक्षक ने ऐसे किसी भी पत्र के वायरल होने से इनकार किया है.

    जानकारी के अनुसार, एसएएफ के 9वीं बटालियन में पदस्थ आरक्षक कुलदीप तोमर की मां लंबे समय से बीमार है, जिसके लिए आरक्षक 10 दिन की छुट्टी में भी गए थे और उनके वापस आने के बाद ही यह पत्र सोशल मीडिया पर काफी तेजी के साथ वायरल होने लगा है.

    वायरल पत्र में लिखा है कि आरक्षक की मां की तबीयत खराब है जिसके लिए उन्हें छुट्टी चाहिए. वही आरक्षक के घर में एक भैंस है जिसने अभी हाल ही में बच्चा दिया है और उस भैंस की सेवा के लिए उन्हें विभाग से छुट्टी चाहिए.

    पत्र में आरक्षक ने यह भी लिखा है कि बचपन से ही वह इस भैंस का दूध पीते आए हैं, जिसके लिए उन्हें अब अपने दूध का कर्ज़ भी अदा करना है. इस पूरे मामले पर जब हमने आरक्षक से संपर्क करने का प्रयास किया तब आरक्षक ने ऐसा कोई भी पत्र खुद से लिखने से इनकार कर दिया.

    वहीं, अधिकारियों ने वायरल पत्र की जांच का हवाला दिया है. वहीं जानकारों की माने तो अधिकारियों के द्वारा आरक्षक को फटकार लगाई गई है, जिसके बाद आरक्षक ने ऐसा किसी भी प्रकार का पत्र लिखने से इनकार कर दिया.