• Sat. Oct 1st, 2022

    बदहाल पाकिस्तान में इंधन संकट, पंपों पर लगी गाड़ियों की लंबी कतारें

    Jun 7, 2020

    बदहाल पाकिस्तान कोरोना काल में और अधिक आर्थिक बदहाली से गुजर रहा है। बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस संकट के कारण पाकिस्तानियों को और भी अधिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अब पाकिस्तान को पेट्रोल और डीजल की भारी कमी का सामना करना पड़ रहा है, जिस कारण यहां के लोगों काफी परेशान हैं और पेट्रोल पंपों पर गाड़ियों की लंबी-लंबी कतारें देखने को मिल रही है.

     

    पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, पेट्रोल और डीजल की आपूर्ती में कमी ने बलूचिस्तान में पेट्रोल पंप स्टेशनों को गंभीर रूप से प्रभावित किया है। खासकर क्वेटा इलाके में रहने वाले खासा परेशान हैं। यहां पर पेट्रोल और डीजल के लिए लंबी-लंबी कतारें देखी गईं। पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, यहां पर इंधन के कीमतों में तीन से चार गुणा तक बढ़ोतरी भी हुई है, इसके बावजूद लोगों को इंधन के लिए प्रतिक्षा करना पड़ रहा है।

     

    कराची में स्थिति और भी खराब

    पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कराची शहर में स्थिति इससे भी ज्यादा खराब है। यहां के पेट्रोल पंप संचालकों का कहना है कि अगर यही स्थिति रही तो आने वाले वक्त में इंधन के कीमतों में और इजाफा करना पड़ सकता है। यही नहीं, पंप मालिकों ने कहा है कि अगर पेट्रोल और डीजल की अपूर्ती इसे तरह से होती रही तो आने वाले वक्त में हमें पंप बंद करने पड़ सकते हैं।

     

    ‘इंधन की कमी नहीं’

    डॉन अखबार से बात करते हुए पाकिस्तान के बिजली और पेट्रोलियम मंत्री उमर अयूब खान ने कहा कि तेल विपणन कंपनियां तेल की कमी दिखाकर नाजायज मुनाफा कमाना चाह रही है। उमर अयूब खान ने दावा किया कि देश में इंधन की कमी नहीं है।

     

    इतने दिनों के लिए बचा है तेल का स्टॉक

    पाकिस्तानी मीडिया कि एक रिपोर्ट के अनुसार, देश के विभिन्न इलाकों में इंधन के भंडार अलग-अलग है। बताया जा रहा है कि कुछ इलाकों में चार से पांच दिन का स्टॉक है, तो कुछ इलाकों में 18 से 20 दिनों का। वहीं, पेट्रोलियम डिवीजन के अनुसार, पाकिस्तान में 272,000 टन पेट्रोल और 376,000 टन डीजल है, जो मुश्किल से 12 और 17 दिनों तक कवर कर सकते हैं।