• Sat. Oct 1st, 2022

    बिहार में 4 जनवरी से खुलेंगे स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान

    Dec 19, 2020

    Patna: राज्यभर के स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान चार जनवरी से चरणवार खुलेंगे। पहले चरण में स्कूलों में नौवीं से 12वीं तथा कॉलेजों में अंतिम वर्ष की कक्षाएं चलेंगी। कोचिंग संस्थान भी खुलेंगे। इसके लिए कोरोना काल के निर्धारित नियमों का पालन अनिवार्य होगा। मुख्य सचिव दीपक कुमार की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में यह निर्णय लिया गया।

    बैठक के बाद मुख्य सचिव ने साफ कहा कि स्कूल-कॉलेज प्रशासन की यह जिम्मेदारी होगी कि वह कक्षा और परिसर में मास्क का उपयोग और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराएं। 18 जनवरी से नौंवी से निचले स्तर की कक्षाएं खुलेंगी, लेकिन इसके पहले सरकार समीक्षा करेगी कि जो कक्षाएं चार जनवरी से चलायी जा रही हैं, वहां किसी प्रकार की कोई दिक्कत तो नहीं है। 11 जनवरी के आस-पास इसकी समीक्षा की जाएगी। कक्षा संचालन पर हमलोग सजग और सतर्क रहेंगे, क्योंकि अभी यह कहना मुश्किल है कि कोरोना संक्रमण का आगे क्या रूख हो सकता है। इसकी निरंतर समीक्षा की जाएगी।

    हॉस्टल को लेकर अभी असमंजस

    हॉस्टल खुलेंगे या नहीं, इस पर पूछे गये सवाल पर मुख्य सचिव ने कहा कि चार जनवरी से कोचिंग की ओर से कक्षाएं चलाने का पूरा प्लान जिलाधिकारी के यहां देना होगा। कोचिंग संस्थानों से ही हॉस्टल जुड़े रहते हैं। अपने प्लान में कोचिंग संचालक यह भी बताएंगे कि हॉस्टल को लेकर उनके क्या प्लान हैं?

    50 प्रतिशत विद्यार्थी एक दिन आएंगे

    मुख्य सचिव ने यह भी साफ किया कि जो भी कक्षाएं चलेंगी, वहां एक दिन में 50 प्रतिशत विद्यार्थी ही आएंगे। किसी कक्षा में अगर 50 विद्यार्थी हैं तो उनमें से 25 ही एक दिन आएंगे और 25 दूसरे दिन आएंगे।

    सरकारी स्कूलों में दो-दो मास्क मुफ्त में

    सरकारी स्कूलों के बच्चों को दो-दो मास्क शिक्षा विभाग की ओर से मुफ्त में मुहैया कराए जाएंगे। बाकी के स्कूल और कोचिंग संस्थान यह सुनिश्चित करेंगे कि उनके यहां भी सभी बच्चे मास्क पहनकर ही आएं।

    14 मार्च से बंद हैं स्कूल-कॉलेज

    गौरतलब हो कि कोरोना संक्रमण को लेकर राज्यभर के स्कूल-कॉलेज व कोचिंग संस्थानों में नियमित कक्षाएं 14 मार्च से ही बंद हैं। शुरुआत में 31 मार्च तक के लिए इन्हें बंद किया गया था, पर धीरे-धीरे इसकी अ‌वधि बढ़ती गई। इस तरह करीब 10 महीने तक कक्षाएं नहीं चलीं। अब जनवरी से इसे चालू कराने का निर्णय सरकार ने लिया है।

    राज्य में स्कूलों की संख्या

    • 80 हजार सरकारी स्कूल हैं पूरे राज्य में
    • 30 हजार के करीब निजी स्कूल संचालित
    • 500 महाविद्यालय चलते हैं पूरे राज्य में