• Mon. Nov 28th, 2022

    लॉकडाउन के कारण नौकरी गई तो खाने के पड़े लाले, युवक ने खुद को कर दिया आग के हवाले

    May 11, 2020

    लॉकडाउन की वजह से लाखों लोगों की नौकरी चली गई है। ग्वालियर में परेशान युवक ने रविवार को घातक कदम उठाया। उसने बीच सड़क पर खुद को आग लगा ली। उसके बाद वह बचने के लिए सड़क पर छटपटाता रहा। पड़ोसियों ने उसके शरीर में लगी आग को बुझाने के लिए पानी फेंका और घटना की सूचना पुलिस को दी। युवक का चेहरा बुरी तरह से झुलस गया है।

    घटना ग्वालियर शहर के जनकगंज क्षेत्र के जीवाजीगंज इलाके की है। संतोष सिहोरकर नाम का युवक अकेले एक किराए के मकान में रहता था। पड़ोसियों के अनुसार वह एक होटल में काम करता था। लॉकडाउन के कारण होटल डेढ़ महीने से बंद है। ऐसे में उसके पास कोई काम नहीं था। इसे लेकर वह परेशान रहता था। युवक की अभी शादी नहीं हुई।

    सड़क पर खुद को लगा ली आग

    जनकगंज थाना प्रभारी प्रीति भार्गव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि रविवार की शाम एक युवक जीवाजीगंज में अचानक से सूनसान सड़क पर आया। कुछ दूर सड़क पर चलने के बाद वह खुद पर मिट्टी तेल डालकर आग लगा ली। सिर पर युवक ने साफी बांधी थी और आग भी उसने शरीर के ऊपरी हिस्से में ही लगाई। आग लगने के बाद उसके चेहरे में जलन होने लगी, तो वह छटपटाते हुए साफी को हटाने की कोशिश करने लगा।

     

    काम नहीं होने की वजह से परेशान

    युवक का इलाज जयारोग्य अस्पताल में चल रहा है। वह 35 फीसदी तक जल चुका है। डॉक्टरों ने उसकी स्थिति खतरे से बाहर बताई है। वहीं, पुलिस का कहना है कि नौकरी नहीं होने की वजह से वह बहुत परेशान रहता था। उसके पास खाने के लिए भी पैसे नहीं बचे थे। इसलिए वह तंग आकर खुदकुशी करना चाहता था।