• Mon. Sep 26th, 2022

    तस्वीरों में देखें ट्रेन हादसा का दर्दनाक मंजर, जहां मालगाड़ी की चपेट में आकर मर गए 16 मजदूर

    May 8, 2020

    महाराष्ट्र के औरंगाबाद में बड़ा हादसा हो गया। थकान के बाद ट्रैक पर सो रहे 19 प्रवासी मजदूर मालगाड़ी से कट गए, जिनमें से 17 लोगों की मौत हो गई। सभी मजदूर मध्यप्रदेश के शहडोल के रहने वाले हैं।

     

    बताया जा रहा है कि सभी जलगांव स्थित आयरन फैक्ट्री में काम करते थे। गुरुवार को औरंगाबाद से प्रवासी मजदूरों के लिए कई ट्रेनें खुली थीं, लेकिन ये लोग नहीं पकड़ पाए थे।

     

    करमाड पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि जालना से भुसावल की ओर पैदल जा रहे मजदूर मध्य प्रदेश लौट रहे थे।

     

    इस घटना पर प्रधानमंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र के औरंगाबाद में हुए रेल हादसे में जानमाल के नुकसान से बेहद परेशान हूं। रेल मंत्री पीयूष गोयल से बात हुई है और वह स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैंण् हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है।

     

    रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि आज 5.22 AM पर नांदेड़ डिवीजन के बदनापुर व करमाड स्टेशन के बीच सोए हुए श्रमिकों के मालगाड़ी के नीचे आने का दुखद समाचार मिला। राहत कार्य जारी है। इन्क्वायरी के आदेश दिये गए हैं। दिवंगत आत्माओं की शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना करता हूं।

     

    औरंगाबाद की एसपी मोक्षदा पाटिल ने बताया कि सभी लोग जालना की एक कंपनी में काम करते थे और भुसावल जाकर ट्रेन पकड़ने वाले थे। सभी लोग 45 किलोमीटर का सफर तय कर चुके थे और मध्य प्रदेश के रहने वाले थे।