• Thu. Oct 6th, 2022

    राम जन्मभूमि: समतलीकरण के दौरान मिले मंदिर के अवशेष और देवी-देवाओं की खंडित मूर्तियां

    May 21, 2020

    अयोध्या में राम जन्मभूमि परिसर में चल रहे समतलीकरण के दौरान राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को कई पुरातात्विक मूर्तियां खंभे और शिवलिंग मिले हैं। 4 फीट से बड़ा एक शिवलिंग उस हिस्से से मिला है, जहां मलबा को हटाने और समतलीकरण का काम चल रहा था। मूर्तियां मिलने पर हिंदू महासभा के वकील विष्णु जैन ने कहा कि ये सारे आरोपों का जवाब है।

    हिंदू महासभा के वकील विष्णु जैन ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में बहस के दौरान हम पर मुस्लिम पक्ष ने हिंदू तालिबान का आरोप लगाया था और कहा था कि वहां पर मंदिर के कोई अवशेष नहीं है। पुरातात्विक मूर्तियां का मिलना यह उन आरोपों का जवाब है, जो हम सुप्रीम कोर्ट में बहस करते चले आ रहे थे।

    विष्णु जैन ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट को हमने बताया था कि वहां ‘राम जन्मभूमि’ परिसर में कई सारे मंदिरों के अवशेष हैं। एक शिवलिंग एएसआई को पहले भी मिला था, जब पहले खुदाई का आदेश हुआ था। वहां पर भव्य मंदिर था, इसलिए सुप्रीम कोर्ट ने हमें वही जगह दी है।

    हिंदू महासभा के वकील विष्णु जैन ने कहा कि एएसआई की रिपोर्ट में बताया गया था कि वहां पर कई सारे मंदिर के अवशेष हैं। बाबरी मस्जिद के नीचे राम मंदिर का बहुत बड़ा स्ट्रक्चर था। आज मिले पुरातात्विक सबूत बताते हैं कि हमने सुप्रीम कोर्ट के सामने जो तर्क रखा था, वह कितना मजबूत था।

    क्या मिला है

    राम मंदिर निर्माण के लिए रामजन्मभूमि परिसर का समतलीकरण किया जा रहा है। इस दौरान कई पुरातात्विक अवशेष मिले हैं। इन अवशेषों में देवी देवताओं की खंडित मूर्तियां, अन्य कलाकृतियां के पत्थर, 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तंभ व 6 रेड सैंड स्टोन के स्तंभ और 5 फुट आकार के नक्काशीयुक्त शिवलिंग की आकृति प्राप्त हुई है।