• Wed. Sep 28th, 2022

    सिंधिया और कमलनाथ के बाद अब साध्वी प्रज्ञा हुईं ‘लापता’, भोपाल में कई जगहों पर लगे पोस्टर

    May 29, 2020

    कोरोना महामारी के बीच एमपी में पोस्टर वॉर की सियासत जारी है। सबसे पहले पूर्व सीएम कमलनाथ और उनके बेटे का छिंदवाड़ा में लगा था। उसके बाद दोनों 3 दिन के दौरे पर छिंदवाड़ा पहुंच गए। फिर ग्वालियर में ज्योतिरादित्य सिंधिया के लापता होने के पोस्टर लगे। अब भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा को लेकर शहर में जगह-जगह पर पोस्टर लगे हैं।

     

    दरअसल, कोरोना महामारी के बीच भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा यहा नहीं हैं। पूर्व में वह सफाई दे चुकी हैं कि उनकी तबियत खराब है। उसके बावजूद भोपाल में शुक्रवार को कई जगहों पर उनके लापता होने के पोस्टर लगे हैं। दीवारों पर जो पोस्टर चिपकाया गया है, उस पर लिखा हुआ है कि गुमशुदा की तलाश। कोरोना महामाररी में भोपाल की जनता परेशना, सांसद प्रज्ञा ठाकुर कहां लापता?

     

    इसके बाद फिर से एमपी की राजनीति गरमा गई है। पिछले दिनों जब पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा था कि भोपाल की सांसद लापता है। तब साध्वी ने उन्हें ट्वीट कर जवाब दिया था। साध्वी प्रज्ञा ने कहा था कि मैं अस्वस्थ हूं और दिल्ली में इलाज करवा रही हूं। ऐसी घड़ी में भी कांग्रेस के नेता ओछी राजनीति कर रहे हैं।

     

    सिंधिया और कमलनाथ के भी लगे

    वहीं, साध्वी पूर्व कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के लापता होने के पोस्टर लग चुके हैं। ग्वालियर में सिंधिया का पोस्टर तो चस्पाया ही गया था, साथ में 5100 रुपये का इनाम भी घोषित किया गया था। वहीं, कमलनाथ पर छिंदवाड़ा में 2100 रुपये का इनाम घोषित किया गया था। बाद में दोनों ही शहरों से नेताओं के पोस्टर हटा दिए गए थे।

    कौन हैं साध्वी

    साध्वी प्रज्ञा भोपाल से सांसद हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में वह कांग्रेस के दिग्विजय सिंह को चुनाव हराकर सांसद बनी हैं। साध्वी प्रज्ञा मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी हैं। इसलिए विरोधियों के निशाने पर रहती हैं।