• Mon. Sep 26th, 2022

    BJP की रैली में पहली बार सिंधिया, नड्डा बोले- बोल्ड फैसला के लिए बड़ा जिगरा चाहिए

    Jun 25, 2020

    Bhopal: ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya scindia) बीजेपी में शामिल होने के बाद पहली बार पार्टी के कार्यक्रम में नजर आए हैं। पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद वह राज्यसभा चुनाव में सिर्फ नामांकन के लिए ही भोपाल आए थे। एमपी में बीजेपी की वर्चुअल रैली (bjp virtual rally) में वह राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (bjp national president) के साथ मंच पर नजर आएं। रैली के संबोधित करते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान से लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी सिंधिया की तारीफ की है।

    दरअसल, दिल्ली में जेपी नड्डा के साथ केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, थावर चंद गहलोत और ज्योतिरादित्य सिंधिया मौजूद थे। वहीं, भोपाल में सीएम शिवराज समेत तमाम बड़े नेता मंच पर थे। भोपाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना काल में जब हमने सत्ता संभाली और वल्लभ भवनन गया, तब कमलनाथ ने कोरोना से बचाव के लिए एक बैठक तक नहीं की थी, क्योंकि वे आईफा के आयोजन में व्यस्त थे। अगर कमलनाथ और कांग्रेस होती तो एमपी तबाह और बर्बाद हो जाता।

    सही वक्त पर कदम उठाया

    सीएम शिवराज ने कहा कि मैं ज्योतिरादित्य सिंधिया जी का अभिनंदन करता हूं कि सही समय पर सही कदम उठाकर एमपी को तबाही और बर्बादी से बचा लिया। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी इस ट्वीट को रिट्वीट किया है।

    जिगरा चाहिए

    वहीं, रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि राजनीति में बोल्ड फैसला लेना और सही फैसले के साथ खड़ा होना, इसके लिए बड़ा जिगरा चाहिए होता है और वो जिगरा ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने भी दिखाया है।

    मंच पर पहली बार दिखे सिंधिया

    ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में शामिल होने के बाद पहली बार मंच पर दिखे हैं। वह इससे पहले बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करते वक्त दिल्ली में दिखे थे। उसके बाद भोपाल में राज्यसभा के लिए नामांकन करने आए थे। फिर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उन्होंने बीजेपी की एक मीटिंग में भाग ली थी। सिंधिया दिल्ली में रहने के दौरान ही कोरोना से संक्रमित हो गए थे। पिछले सप्ताह वह स्वस्थ होकर घर लौटे थे। उसके बाद आज बीजेपी के कार्यक्रम में नजर आए हैं।