• Mon. Sep 26th, 2022

    पहली बार मिडिल क्लास की बात, जानें 20 लाख करोड़ रुपये के विशेष राहत पैकेज में किसके लिए क्या

    May 13, 2020

    पीएम मोदी ने देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के विशेष राहत पैकेज का ऐलान किया है। ये 20 लाख करोड़ सूक्ष्म, लघु, मंझोले, उद्योग यानी MSME के लिए हैं। ये पैकेज उस श्रमिक, किसान के लिए है जो हर हालात, हर मौसम में दिन रात देशवासियों के लिए परिश्रम कर रहे हैं। ये ईमानदारी से टैक्स भरने वाले मध्यम वर्गीय लोगों के लिए है, उद्योग जगत के लिए है।

     

    पीएम मोदी ने कहा कि 13 मई से वित्त मंत्री इस आर्थिक पैकेज की विस्तार से जानकारी देंगी। इस पैकेज के साथ अब देश का आगे बढ़ना अनिवार्य है। पीएम मोदी ने कहा कि हाल में सरकार ने कोरोना संकट से जुड़ी जो आर्थिक घोषणाएं की थीं, जो रिजर्व बैंक के फैसले थे और आज जिस आर्थिक पैकेज का ऐलान हो रहा है, उसे जोड़ दें तो ये करीब-करीब 20 लाख करोड़ रुपए का है। ये पैकेज भारत की GDP का करीब-करीब 10 प्रतिशत है।

     

    किसानों के लिए क्या होगा खास- पीएम मोदी ने कहा कि पिछले 6 साल में जो रिफॉर्म हुएए उनके चलते आज भारत की अर्थव्यवस्था अधिक सक्षम व समर्थ बनी है। रिफॉर्म्स के दायरे को व्यापक करते हुए नई हाइट पर ले जाना है। ये रिफॉर्म खेती से भी जुड़े होंगे ताकि किसान सशक्त हो और भविष्य में कोरोना संकट जैसे किसी अन्य आपदा में खेती के कामकाजों पर कम असर हो।

     

    उन्होंने कहा कि समय की मांग है कि भारत हर स्पर्धा में जीते, ग्लोबल सप्लाई चेन में बड़ी भूमिका निभाए। इसे देखते हुए आर्थिक पैकेज में कई प्रावधान हैं। माना जा रहा है कि पीएम किसान सम्मान योजना के विस्तार पर फैसला हो सकता है। इसके अलावा किसानों की आमदनी बढ़ाने को लेकर भी ऐलान होने की उम्मीद है।

     

    छोटे उद्योगों के लिए आ सकती है सौगात- आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को सिद्ध करने के लिए इस पैकेज में कुटीर उद्योग, गृह उद्योग, हमारे लघु-मंझोले उद्योग, के लिए बड़ा ऐलान किया जा सकता है, जो करोड़ों लोगों की आजीविका का साधन है, जो आत्मनिर्भर भारत के हमारे संकल्प का मजबूत आधार है।

     

    नौकरी पेशा के लिए भी हो सकती है बड़ी घोषणा- ये आर्थिक पैकेज हमारे देश के मध्यम वर्ग के लिए है, जो ईमानदारी से टैक्स देता है, देश के विकास में अपना योगदान देता है।

     

    इंफ्रास्ट्रक्चर पर इन्वेस्टमेंट बढ़ेगा- राहत पैकेज में इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च बढ़ेगा, लिहाजा देश में विदेशी कंपनियां भी तेजी से निवेश कर सकती है।

     

    सप्लाई चेन को आधुनिक बनाएंगे- पीएम ने कहा कि हमारे पास साधन, सामर्थ्य है। बेस्ट टैलेंट है हम बेस्ट प्रॉडक्ट बनाएंगे, क्वालिटी बेहतर करेंगे। सप्लाई चेन को आधुनिक बनाएंगे। हम ऐसा कर सकते हैं और जरूर करेंगे।