• Mon. Sep 26th, 2022

    Union Cabinet Decision: किसानों के लिए ‘वन नेशन, वन मार्केट’ का ऐलान

    Jun 3, 2020

    कोरोना वायरस संकट के बीच बुधवार को पीएम मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट ( Union Cabinet Meeting ) में अहम बैठक हुई. बैठक में एशेंसियल कमोडिटी एक्ट ( Essential Commodities Act Amended ) को मंजूरी मिली है.

     

    वहीं किसानों के लिए ‘वन नेशन, वन मार्केट’ का ऐलान किया गया है. इस बाबत सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि कैबिनेट ने किसानों के लिए तीन महत्वपूर्ण फैसले किए हैं.

     

    किसानों के लिए बड़े ऐलान

    कैबिनेट की बैठक में किसानों के लिए वन नेशन, वन मार्केट ( One Nation One Market ) का एलान किया गया है. इस बाबत कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने बताया कि किसानों के हित में अहम सुधार किए गए हैं. वन नेशन, वन मार्केट होने के कारण किसान अपनी उपज देश में कहीं भी बेच सकते हैं.

    केंद्रीय कैबिनेट में लिए गए बड़े फैसले

    • किसान अपने उत्पाद कहीं भी बेच सकेगा और उसे ज्यादा दाम देने वालों को उत्पाद बेचने की आजादी मिली है.
    • ‘वन नेशन, वन मार्केट’ की दिशा में भारत आगे बढ़ेगा, इसके लिए कानून बनेगा.
    • ज्यादा कीमतों की गारंटी पर एक निर्णय हुआ. अगर कोई निर्यातक है, कोई प्रोसेसर है, कोई दूसरे पदार्थों का उत्पादक है तो उसको कृषि उपज आपसी समझौते के तहत बेचने की सुविधा दी गई है. इससे सप्लाइ चेन खड़ी होगी. भारत में पहली बार ऐसा कदम उठाया गया है.
    • हर मंत्रालय में प्रॉजेक्ट डिवेलपमेंट सेल बनेगी. इससे भारत निवेशकों के लिए ज्यादा आकर्षक और अनुकूल देश बनेगा.
    • कोलकाता पोर्ट को श्यामा प्रसाद मुखर्जी का नाम दिया जाएगा. पीएम मोदी ने 11 जनवरी को इसकी घोषणा की थी.
    • फार्मोकोपिया कमिशन की स्थापना का निर्णय हुआ है. फार्मोकोपिया कमिशन होम्योपैथी ऐंड इंडियन मेडिसिन होगी. गाजियाबाद में आयुष मंत्रालय के दो लैब्स हैं. इन दोनों लैब्स का भी इसके साथ मर्जर हो रहा है.