• Mon. Sep 26th, 2022

    ‘साइकल गर्ल’ पर ज्योतिरादित्य सिंधिया का फर्जी बयान वायरल, तेज प्रताप ने भी दिया साथ!

    May 26, 2020

    सोशल मीडिया फर्जी अकाउंट्स के जरिए कई नेताओं के बारे में झूठ फैलाया जाता है। इसके शिकार बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी हो गए हैं। पहले उनके बारे में एक ट्विटर हैंडल से कांग्रेस में वापसी की चर्चा को लेकर अफवाह उड़ी थी। अब ‘साइकल गर्ल’ ज्योति से जोड़ कर उनके बारे में एक फेक न्यूज स्प्रेड किया जा रहा है। इस होड़ में लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप भी शामिल हो गए। फर्जी खबर को शेयर कर उन्होंने भी सिंधिया पर निशाना साधा है।

     

    दरअसल, बिहार के दरभंगा जिले की बेटी ज्योति लॉकडाउन में साइकल से अपने पिता को लेकर घर पहुंची। मुश्किल वक्त में उसकी जिंदादिली की कहानी की खूब चर्चा है। अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी इवांका ट्रंप ने भी ज्योति के हौसले को सलाम किया है। ज्योति को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया का फर्जी बयान सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है, जो कि उन्होंने कभी दिया ही नहीं है।

    क्या है वायरल

    एक न्यूज चैनल के नाम से बने फर्जी ट्विटर अकाउंट से लिखा गया कि ‘भाजापा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ की, बोले- मोदी जी की वजह से आज ज्योति पासवान का नाम दुनिया भर में फेमस है, अगर लॉकडाउन नहीं होता कोई नहीं जानता उसका नाम…’। यह ट्वीट सोमवार को लगातार सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था।

     

    तेजप्रताप भी हो गए शामिल

    ज्योतिरादित्य सिंधिया का बयान मीडिया में कहीं नहीं था। सोशल मीडिया वायरल ट्वीट को स्प्रेड करने में बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप भी शामिल हो गए। उन्होंने भी अपने ऑफिसिशल ट्विटर हैंडल से इस ट्वीट को शेयर किया। साथ ही तेजप्रताप ने लिखा कि लगता है गोबर का सेवन महाराज जी ने भी करना शुरू कर दिया है। ये गर्व नहीं शर्म की बात है महाराज।

     

    सिंधिया की सफाई और अकाउंट बंद

    सिंधिया के बारे में यह झूठ लगातार प्रचारित किया जा रहा था। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने वायरल ट्वीट पर कहा कि इस तरह का बयान मैंने आज तक नहीं दिया। इस तरह के समाचार चलाने वालों के विरुद्ध कार्रवाई होनी चाहिए, जो झूठी खबरों से कमाई करते हैं। दुर्भाग्यपूर्ण। इसके बाद उस फर्जी अकाउंट से ट्वीट को डिलीट कर दिया गया। साथ ही अकाउंट भी डिएक्टिवेट हो गया।